Hindi Poem for Kids

5/5 - (1 vote)

Last Updated on 07/08/2021 by Manoj Verma

  1. दो दीप
  2. तितली रानी
  3. भारत देश हमारा है
  4. सूरज
  5. बदल

1. दो दीप

बिना तेल का , बिन बाती का,
        दिनभर एक दिया जलता है ।
        और दीप जलने से पहले ,
        पश्चिम में जाकर ढलता है ।
                                     नभमंडल का सूरज है वह,
                                      कण-कण को उज्जवल करता है।
                                      ऊंच नीच का भेद मिटाकर ,
                                     अंधकार सबका हारता है ।
        चमकीली किरणों से अपनी ,
        नित नया सवेरा लता है ।
        उसकी चमकीली किरणों से ,
        तन-मन, जीवन का नाता है ।
                                       कमल पोखरों में हस्ते है ,
                                       मन में फुले नहीं समाते ।
                                       किरणों से नव जीवन पाकर ,
                                       पंछी नाच – नाचकर गाते ।
        एक दीप जलता है ऐसा,
        भारत माँ के आंगन में ।
        जिसके आगे नतमस्तक है ,
        ढलता सूरज नीलगगन में ।
                                        वह शिक्षा का एक दीप है ,
                                        जो दिन रात जला करता है ।
                                        ज्ञान – दीप है जो समाज के,
                                        घाट – घाट में प्रकाश भरता है ।

अन्य पढ़ेः-  Kabir ke dohe in hindi | कबीर के दाेहे हिन्दी में
Manoj Verma
Manoj Vermahttp://hinditechsol.com
Blogger, Website Developer, Website Designer, IT Professional

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

669FansLike
236FollowersFollow
109SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles